Sunday 19th September 2021

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने सुकमा नक्सल हमले की तीव्र निन्दा की, कहा बौखलाहट कायरता का परिचायक

Mar 12th, 2017 5:55 am | By | Category: LATEST NEWS

images

THE NEWSMAN OF INDIA.COM
मुख्यमंत्री ने सुकमा जिले में नक्सल हमले की तीव्र निन्दा की : यह वारदात नक्सलियों की बौखलाहट और कायरता का परिचायक : डॉ. रमन सिंह
रायपुर, 11 मार्च 2017
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज सवेरे राज्य के बस्तर संभाग के सुकमा जिले में नक्सलियों द्वारा केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों पर घात लगाकर किए गए हमले में कठोर शब्दों में तीव्र निन्दा की है। 
डॉ. सिंह ने इस हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना और सहानुभूति प्रकट की है। डॉ. सिंह ने कहा है कि शहीद जवानों के पारिवारिक शोक की इस घड़ी में हम सब उनके साथ हैं। उन्होंने कहा- आदिवासी बहुल बस्तर संभाग के अंतिम छोर के जिले सुकमा में सीआरपीएफ के जवान ग्राम इंजरम-भेज्जी की निर्माणाधीन सड़क के निर्माण कार्यों को सुरक्षा देने के लिए रोड ओपनिंग की ड्यूटी पर निकले थे। नक्सलियों ने उन पर छुपकर हमला किया। हमारे बहादुर जवानों ने उनके हमले का अदम्य साहस और वीरता के साथ मुकाबला किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सीआरपीएफ के जवानों ने लोकतंत्र की रक्षा और बस्तर अंचल तथा सुकमा जिले के विकास के लिए कर्त्तव्य पालन करते हुए अपने प्राणों की आहुति दी है। उनका यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। सुरक्षा बलों के लगातार बढ़ते दबाव की वजह से बस्तर संभाग में नक्सलियों के पैर उखड़ने लगे हैं। इसके फलस्वरूप वे बौखला गए हैं और बौखलाहट में इस प्रकार की हिंसक वारदात कर रहे हैं, जो उनकी कायरतापूर्ण मानसिकता का परिचायक बताया। 
वारदात की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री ने सबसे पहले प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह को टेलीफोन पर इसकी जानकारी दी। इसके बाद डॉ. सिंह ने यहां अपने निवास कार्यालय में गृह विभाग और राज्य पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की आपात बैठक लेकर स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने राज्य पुलिस के अधिकारियों को केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के साथ मिलकर सुकमा जिले में और सम्पूर्ण बस्तर संभाग के नक्सल प्रभावित इलाकों में सतर्कता बढ़ाने और इस वारदात के अपराधियों का युद्धस्तर पर पता लगाने तथा उन्हें गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। 

Government News

Comments are closed.